कोरोना की बर्बादी ही हम सब की आबादी है।

कोरोना की बर्बादी ही हम सबके जीवन को आबाद कर सकती है। कोरोना हमारा एक अदृश्य शत्रु है। इस वायरस की चेन को तोड़कर ही इसको नष्ट किया जा सकता है।

जैसा कि हम सब देख व जान रहे हैं, कि कोरोना वैश्विक महामारी अपना विकराल रूप ले चुकी है। सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व में प्रतिदिन लाखों की संख्या में कोरोना के सक्रिय मामले मिल रहे हैं। जिनको देखते हुए हम सब के मन में  एक घबराहट ने भी जन्म ले लिया है। लेकिन इस बात को भी नाकारा नहीं जा सकता कि कोरोना एक प्रचंड महामारी है। लेकिन मनुष्य तो पर्वत में भी रास्ता बना लेता है, पृथ्वी से आकाश तक भी पहुँच सकता है। जिस चाँद को हमारे पूर्वज रातों में खाट पर लेट कर अपने आँगन से देखा करते थे। उस चाँद पर भी पहुँच सकता है। तो क्या मनुष्य इस कोरोना महामारी का सामना कर इसको नहीं हरा सकता?

कोरोना है ही नहीं! ये मानने की भूल कतई न करें

मैंने अपने चारों ओर महसूस किया कि अधिकतर लोग ये कह रहे हैं कि मुझे कोरोना नहीं हो सकता है। मेरी प्रतिरोधक क्षमता (immunity) बेहतर है। वहीं दूसरी ओर लोगों का कहना है कि कहीं कोई कोरोना है ही नहीं। सरकार के दिए हुए सभी आंकड़े झूठे हैं। कुछ हद तक ये बातें सच हो सकतीं हैं लेकिन इन बातों को सौ फीसदी सत्य मानना हम सबके लिए पूर्णता बुद्धिहीन कृत्य होगा। सरकारें झूठ कह सकती हैं, आपकी प्रतिरोधक क्षमता भी बेहद अच्छी हो सकती है। परन्तु यह बात सौ फीसदी सत्य है कि कोरोना है और बेहद ही क्रूर है। आपकी प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होने के कारण आप पर शायद असर न दिखा पाए परन्तु यदि आप अपने परिवार के साथ रह रहे हैं। तो ये निश्चित है कि आपके परिवार में से कोई कोरोना ग्रसित हो जाये।

आइये खोजते हैं कोई तरीका….

महाभारत के युद्ध में यदि अर्जुन को अकेले लाभ या हानि होनी होती तो अर्जुन कभी भी शस्त्र न उठाता। लेकिन बात जब परिवार की आयी तो अर्जुन को एक-एक कर सभी का वध करना पड़ा। आप सब भी अपने परिवार के वारे में विचार कीजिये और सुरक्षा नियमों का पूर्ण रूप से पालन कीजिये।

  • मनोवैज्ञानिकों की मानें तो खुद को व अपने परिवार को कोरोना सम्बन्धी सभी नकारात्मक खबरों से दूर रखिये।
  • जितना अधिक हो सके खुद को व्यस्त रखें।
  • बच्चों को पढ़ाइये, उनके साथ खेलिए।
  • बच्चों को धार्मिक व ऐतिहासिक कहानियाँ सुनाइए।
  • अच्छी-अच्छी किताबें पढ़िए।
  • मनोरंजक कार्यक्रम देखिये।
  • फलों व भोजन का सेवन निरंतर करते रहिये।

घर में रहिये, बाहरी खान-पान पर रोक लगाइए। कोरोना से अपने परिवार को स्वस्थ रखिये, और परिवार पर बीतने वाले संकट की सोच से पूर्णता मुक्त रहिये।

कोरोना से बचने के कारगर उपाए पढ़ने के लिए क्लिक करें

हमारी मुहिम का हिस्सा बनिए, कोरोना से सम्बंधित जानकारी ऑडियो, विडियो या लेख के माध्यम से हमारे साथ साझा करें।

By ~ Alok Pachori (A.T.A)

Alok Pachori (A.T.A)

Assistant Editor, Social Media Manager, Founder Of The Jhansi Writers

Alok Pachori (A.T.A) has 103 posts and counting. See all posts by Alok Pachori (A.T.A)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *