जब हैंडपंप से पानी के स्थान पर निकली शराब,पुलिस रह गई भौचक्की

लाॅकडाउन के बावजूद शराब माफियाओं ने निकाला तोड़
झांसी। कोरोना वायरस के कहर से बचने के लिए विश्व के देश सावधानियां बरत रहे हैं। देश को इसके प्रकोप से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोंदी ने देशभर में 21 दिन का लाॅकडाउन लागू किया है। उसके बाद से ही प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शराब,गुटखा और यहां तक की पान की दुकानों पर तालेबंदी के आदेश दिए थे। इसके इतर शराब माफियाओं ने सरकार की निषेधाज्ञा को धताबताकर शराब की बड़े पैमाने पर मुंहमांगी कीमत में बिक्री शुरु की है। इसका भंडा तब फूटा जब टहरौली थाना क्षेत्र में शिकायत पर जंगल में पहुंची पुलिस को हैंडपंप से पानी के स्थान पर शराब निकलती मिली। इस मामले में पुलिस ने दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है।
जनपद मुख्यालय से करीब 50 किमी की दूरी पर स्थित तहसील टहरौली के समीप जंगल में शराब माहिफयाओं ने जमीन के नीचे ड्रमों में शराब भरकर रखी थी। उसके ऊपर एक हैंडपंप लगाया गया था। वहां पर दो महिलाओं को शराब की बिक्री के लिए बैठाया गया था। जो भी शराब का शौकीन वहां पहुंचता था,दिए गए रुपयों की कीमत के अनुसार हैंडपंप चलाकर गिलास में शराब भरकर पीने को मिलती थी। इसी दौरान एक ग्रामीण के मुताबिक उसका बेटा घर पर रखे एक हजार रूपए चुरा कर ले गया। देरशाम उसका बेटा नशे में धुत जंगल में पड़ा मिला। इसका संदेह होने पर इसकी जानकारी की गई। और इसकी सूचना पुलिस को दी गई। ग्रामीण की मानें तो देशी शराब की खपत अब भी बड़े पैमाने पर ग्रामीण क्षेत्रों में लाॅकडाउन की सख्ती के बाबजूद बदस्तूर जारी है। सूचना पर थाना प्रभारी निरीक्षक डाक्टर आशीष मिश्रा फोर्स के साथ जंगल में पहुंचे। उन्होंने हैंडपंप के समीप जेसीबी से खुदाई कराई। तो अवैध शराब से भरे कई ड्रम निकले।
थाना प्रभारी बोले,माफियाओं की खैर नहीं
थानाप्रभारी ने इस मामले में बताया कि पूरे जनपद में शराब बेचने पर रोक है। इसके बाद भी कुछ लोग अवैध तरीके से शराब बेंच रहे हैं। सूचना के आधार पर यहां से ड्रमों में शराब बरामद की गई है। पुलिस ने मौके से दो महिलाओं को भी गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही दो शराब माफियाओं की तलाश की जा रही है। उन्होंने कहा कि जो भी शराब का अवैध कारोबार करता हुआ पाया जाएगा उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *