Black Fungus Injection बिकता है 7000 में, अब से मिलेगा मात्र इतने में

Black Fungus Injection: कोरोना महामारी के प्रकोप के दौरान हम सबको अन्य कई तरह की बीमारियों का सामना भी करना पड़ा, जिसमें ब्लैक फंगस, व्हाईट फंगस और फिर यलो फंगस भी शामिल हो गया। इनमें से ब्लैक फंगस मुख्य रूप से घातक साबित हुआ, जिसका असर झाँसी में भी देखने को मिला। इसके उपचार में इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन की कीमत 7000 रुपये थी। लेकिन, अब इसका उत्पादन एक और कंपनी (जेनेटिक लाइफ साइंसेज) द्वारा शुरू कर दिया है, जिससे इसके कीमत में लगभग 6 गुना तक कमी स्थापित हुई है।

महाराष्ट्र स्थित जेनेटिक लाइफ साइंसेज द्वारा गुरुवार को एम्फोटेरिसिन बी इमल्शन इंजेक्शन का निर्माण शुरू कर दिया गया है, जिसका इस्तेमाल म्यूकोर्मिकोसिस या काले कवक(Black Fungus) के इलाज के लिए किया जाता है। विभिन्न राज्यों में COVID-19 रोगियों में म्यूकोर्मिकोसिस एक गंभीर संक्रमण पाया गया है, जिसे ब्लैक फंगस के रूप में भी जाना जाता है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के कार्यालय के अनुसार, अभी तक केवल एक कंपनी द्वारा इसका उत्पादन किया जा रहा था और यह 7,000 रुपये में उपलब्ध था। हालांकि, इंजेक्शन अब 1200 रुपये में उपलब्ध होगा।

 

Black Fungus अथवा म्यूकोर्मिकोसिस के लक्षण

मधुमेह और प्रतिरक्षा-दमित व्यक्तियों वाले COVID-19 रोगियों में, साइनसाइटिस, एक तरफ चेहरे का दर्द या सुन्नता, नाक या तालु के पुल पर कालापन, दांत दर्द, धुंधला या दर्द के साथ दोहरी दृष्टि होने पर म्यूकोर्मिकोसिस का संदेह होना चाहिए।

त्वचा पर घाव, घनास्त्रता (रक्त का थक्का), सीने में दर्द और बिगड़ते श्वसन के लक्षण भी इस बीमारी में देखने को मिलते हैं।

यह भी पढ़ें:-  इस बेबस और लाचार गाँव की यह चिट्ठी जरूर पढ़ना कमिश्नर साहब

आईसीएमआर-स्वास्थ्य मंत्रालय अनुसार इस बीमारी के प्रमुख कारक अनियंत्रित मधुमेह, स्टेरॉयड द्वारा इम्यूनोसप्रेशन और लंबे समय तक आईसीयू में रहना शामिल हैं।

रोग को रोकने के उपाय

  • COVID डिस्चार्ज के बाद और मधुमेह के रोगियों में रक्त शर्करा के स्तर की निगरानी की जानी चाहिए।
  • स्टेरॉयड के सही समय, खुराक और अवधि में विवेकपूर्ण तरीके से उपयोग किया जाना चाहिए।
  • ऑक्सीजन थेरेपी के दौरान ह्यूमिडिफायर (प्यूरीफायर) में साफ पानी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।
  • एंटीबायोटिक्स और एंटीफंगल दवाओं का सही इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

Alok Pachori (A.T.A)

Assistant Editor, Social Media Manager, Founder Of The Jhansi Writers

Alok Pachori (A.T.A) has 103 posts and counting. See all posts by Alok Pachori (A.T.A)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *