बलात्कार के आरोपी का जमानत प्रार्थना पत्र ‌निरस्त

झाँसी : बलात्कार कर वीडियो वायरल कर जान से मारने की धमकी देने के आरोपी का जमानत प्रार्थना पत्र ‌अपर सत्र न्यायाधीश, न्यायालय सं-9, जयतेन्द्र कुमार द्वारा निरस्त कर दिया गया।

विशेष लोक अभियोजक विजय सिंह कुशवाहा के अनुसार वादी मुकदमा ने थाना-पूंछ में अभियुक्त पुष्पेन्द्र, वासुदेव व मोबाईल नं०-9335701405 के धारक के विरूद्ध धारा- 376, 354(क), 504, 506 भा.द.सं. एवं धारा- 3/4 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 तथा धारा- 67ए आई०टी०एक्ट के तहत विगत 11 अप्रेल 2021 को पंजीकृत करायी थी कि 26 मार्च 2021 को उसकी बहन अपने पुराने मकान में जरूरी काम से गई थी। तभी गांव का पुष्पेन्द्र उसकी बहन को जबरन खींच कर ले गया। बहन ने काफी विरोध किया, तो उसने मुंह को कपड़े से दबा दिया, जिस कारण यह चिल्ला नहीं पाई। पुष्पेन्द्र ने उसके साथ बलात्कार किया तथा धमकी दी कि यदि किसी को बताया तो तुम्हारे इकलौते भाई अंकित की हत्या कर देंगे। डर व बदनामी के कारण उसकी बहन ने किसी से कुछ नहीं बताया।

6 अप्रेल 2021 को उसकी बहन अपनी बड़ी बहन की बेटी रौनक को शौच क्रिया के लिए बाडा, जो पुष्पेन्द्र के मकान से लगा हुआ है, में गई, तो पुष्पेन्द्र ने राखी को पकड़ने की कोशिश की। उसकी बहन चिल्लाई, तो बड़ी बहन नेहा ने पुष्पेन्द्र को ललकारा, तो पुष्पेन्द्र गाली देता हुआ और यह कहता हुआ भाग गया कि तुमने रिपोर्ट की या किसी को कुछ बताया, तो पूरे घर को जान से मार देगे और राखी का वीडियो मोबाईल पर वायरल कर देगे।

इसके बाद मोबाईल नं०-७३८०८२१६३१ पर मोबाईल नं०-२३३५७०१४०५ से वीडियो आया, जिसमें उसकी बहन व पुष्पेन्द्र की फोटो है। गांव के कई लोगों के व्हाटसअप पर वीडियो वायरल हुआ है। उक्त मामले में अभियुक्त पुष्येन्द्र पुत्र वासुदेव उर्फ दुबे अहिरवार निवासी ग्राम अमगांव, का जमानत प्रार्थनापत्र खारिज कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *