जंजीर, मंगलसूत्र झपटकर भागे दो बदमाशों के जमानत प्रार्थना पत्र निरस्त

झाँसी : सोने की जंजीर, मंगलसूत्र आदि झपटकर भागे दो बदमाशों के जमानत प्रार्थना पत्र विशेष न्यायाधीश (द०प्र०क्षे०अधि०), विजय कुमार वर्मा की अदालत में निरस्त कर दिए गए।

जानकारी देते हुए विशेष अधिवक्ता विपिन कुमार मिश्रा ने बताया कि वादी मुकदमा मुकेश कुमार दुवे ने 19 अप्रैल 2021 को तहरीर थाना सीपरी बाजार में देते हुए बताया था कि वह पत्नी कल्पना त्रिपाठी जो कि अम्बाबाय स्वास्थ्य केन्द्र में स्टाफ नर्स के पद पर कार्यरत है को रात में लेकर लौट रहा था तभी अचानक स्वामी राधा सत्संग भवन के सामने दो अज्ञात मोटरसाइकिल सवारों ने पीछे से रोक कर पति पत्नी की चेन छीन ली व जान से मारने की धमकी देकर भाग गए। उक्त मामले में अभियुक्त जगभान पाल धारा-392, 411 भाव्दं०सं०.के तहत प्रस्तुत जमानत प्रार्थना पत्र न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया।

न्यायालय में अभियुक्त जगभान पाल पुत्र विजय सिंह पाल निवासी गोपालपुरा थाना सीपरी बाजार की ओर से प्रस्तुत जमानत प्रार्थना पत्र के सम्बंध में मिश्रा ने बताया कि वादी मुकदमा किशुनलाल ने २० अप्रैल २०२१ को तहरीर थाना प्रेमनगर में दी थी कि अपनी मोटरसाइकिल यू०पी०- ९३एव्ही- ६७११ डीलक्स से अपनी बहू सविता को बैठा कर राजगढ
रिश्तेदारी में कार्यक्रम में सम्मिलित होने जा रहा था समय करीब चार बजे दिन में जैसे ही पहुज नदी पुल के पास हाइवे पर बिजौली के पास पहुंचे तभी तीन व्यक्ति अज्ञात मोटरसाइकिल बिना नम्बर की आये और पूछा कि कहां जा रहे हो और गाड़ी को ओवर टेक करके रोक लिया तथा मोटरसाइकिल पर बेठी मेरी बहु गले में पहने मंगलसूत्र बीजासेन ओमछठा को छपट्टा मारकर छीन लिया तथा तीनों लोग रक्सा की ओर भाग गए। उनमें से से एक व्यक्ति तमंचा लिए था।

उक्त मामले में अभियुक्त जगभान पाल द्वारा धारा- ३९२,४११ भादं०सं० के तहत प्रस्तुत जमानत प्रार्थना पत्र न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *